एटा-पुलिस मुठभेड़ में 4 शातिर अन्तर्जनपदीय लुटेरे गिरफ्तार

  • अवैध असलहा कारतूस, चोरी की दो मो0सा0 तथा लूटे गये 25000 रुपये बरामद, लूट की कई घटनाओं का खुलासा

प्रशांत भारद्वाज, एटा, N.I.T : थांना जलेसर पुलिस द्वारा चैकिंग के दौरान 4 शातिर अन्तर्जनपदीय लुटेरों को पुलिस मुठभेड़ के पश्चात् 2 तमंचा, 2 जिन्दा व 2 खोखा कारतूस 315 बोर तथा लूटे गये 25000 रुपयों सहित गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गयी है।

क्या घटना

वादी नवीन गौतम पुत्र केशव देव गौतम निवासी राया रोड, सादाबाद जिला हाथरस द्वारा थाना जलेसर पर इस आशय की सूचना दी गयी कि दिनांक 16.07.2017 को समय करीब शाम के 03.30 बजे उसका मैनेजर जगवीर सिंह पुत्र खजान सिंह निवासी मौनीया सादाबाद हाथरस, बैरनी चैराहा स्थित प्रवेश कुमार पुत्र मुन्नालाल की दुकान से चार पाॅच पार्टियों का पेमेन्ट लेकर सादाबाद के लिये निकल कर जैसे ही बैरनी नहर के पास पहॅुचा पीछे से आ रही दो मो0सा0 पल्सर तथा स्पलेण्डर सवार चार व्यक्तियों द्वारा ओवरटेक करके वादी के मैनेजर को रोक लिया तथा तमंचा दिखा कर उसका बैग जिसमें 55000 रुपये व उसका मोबाइल छीन कर भाग गये। उक्त सूचना पर थाना जलेसर पर मुअसं- 496/17 धारा 392 भादवि पंजीकृत किया गया।IMG-20170727-WA0007

गिरफ्तारी तथा खुलासा

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा द्वारा उक्त घटना को गम्भीरता से लेते हुये घटना के अनावरण तथा लूटी गयी सम्पत्ति को बरामद करने हेतु प्रभारी निरीक्षक जलेसर को निर्देशित किया गया। दिनांक 26.07.2017 को प्रभारी निरीक्षक जलेसर श्री सुनील कुमार श्रीवास्तव, उ0नि0 श्री अम्बरेश कुमार त्यागी तथा उ0नि0 श्री ब्रहमप्रकाश मय हमराही कर्मचारियों के थानाक्षेत्र में वाॅछित/वारण्टी अभियुक्तों की तलाश तथा संदिग्ध वाहन/व्यक्तियों की चैकिंग कर रहे थे। तभी मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुयी कि दिनांक 16.07.2017 को थाना जलेसर के बैरनी नहर पर हुई लूट की घटना के चारों अभियुक्त फिर से किसी घटना को अंजाम देने के उद्देश्य से हाथरस की ओर से जलेसर की तरफ आ रहे हैं, अगर जल्दी की जाये तो गिरफ्तार किये जा सकते हैं। प्राप्त विश्वस्त सूचना के आधार पर थाना जलेसर पुलिस द्वारा हाथरस तिराहे पर पहुॅच आने जाने वाले वाहनों की चैकिंग शुरु कर दी गयी। कुछ समय बाद हाथरस की ओर से दो मो0सा0 आस-पास चलते हुये आती दिखाई दीं। जिन्हें चैकिंग हेतु रुकने का इशारा किया तो मो0सा0 सवार व्यक्तियों द्वारा पुलिस टीम पर जान से मारने की नीयत से फायरिंग की गयी। अपना बचाव करते हुये पुलिस टीम द्वारा घेराबन्दी कर समय करीब 19.40 बजे मौके से चारों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया। जामातलाशी लेने पर अभियुक्तों के कब्जे व मौके से 2 तमंचा, 2 जिन्दा व 2 खोखा कारतूस 315 बोर, 25000 रुपये तथा दो मोे0सा0 बरामद की गयीं। पूछताछ में गिरफ्तार अभियुक्तों द्वारा थाना जलेसर के बैरनी नहर पुल पर व्यापारी से हुयी लूट की घटना का इकबाल किया गया तथा बताया कि ये उसी लूट के बचे हुये रुपये हैं, बाकी हमने खर्च कर लिये, उस घटना में लूटा गया मोबाइल हमने तोड़कर फैंक दिया तथा बैग को जला दिया था। बरामद मोटर साइकिलों के बारे में पूछे जाने पर अभियुक्तों द्वारा बताया गया कि ये मो0सा0 उन्होनें काफी समय पहले चोरी की थीं, जिनको छिपकर अक्सर चलाते हैं तथा लूट आदि की घटनाओं में इस्तेमाल करते हैं। सख्ती से पूछे जाने पर अभियुक्त कमल सिंह ने बताया कि करीब ढ़ाई महिने पहले उसने अपने साथी कपिल व चन्द्रवीर के साथ मिलकर गढ़ी रामलाल थाना जलेसर क्षेत्र में एक लड़की से 1200 रुपये व मोबाइल लूटे थे। तथा करीब तीन माह पूर्व कपिल, चन्द्रवीर के साथ मिलकर जलेसर आगरा रोड पर सकरौली थाना क्षेत्र में 40000 रुपये लूटे थे। इसके अलावा करीब ढेड माह पूर्व बसई प्रतिक्षालय के पास एक मो0सा0 सवार दंपत्ति से सोने की चैन, करीब दो माह पूर्व किला से आगरा को जाने वाली रोड पुलिया के पास अवागढ़ थाना क्षेत्र में एक मो0सा0 सवार व्यक्ति से 35000 रुपये लूटे थे, लूटी गयी सम्पत्ति को हम सब आपस में बाॅट लेते हैं, और शौक व ऐशोआराम में खर्च कर लेते हैं।

गिरफ्तार अभियुक्तों का नामपता
1-कमल सिंह पुत्र वेदराम निवासी लोहचा नाहरपुर थाना जलेसर एटा।
2-पूरन पुत्र इन्द्रपाल निवासी पड़ियावली, थाना मडराक, अलीगढ़।
3-कपिल कुमार पुत्र सुखवीर निवासी उपरोक्त।
4-बन्टी पुत्र रामबाबू निवासी मईनाथ थाना मडराक, अलीगढ़।

अभियुक्त कमल थाना सासनी गेट, अलीगढ़ पर पंजीकृत धारा 379, 411 तथा 13 जी एक्ट के मुकदमों में तथा अभियुक्त पूरन थाना देहलीगेट, अलीगढ़ पर पंजीकृत धारा 25 आर्म्स एक्ट के अभियोग में जेल जा चुके हैं।

माल बरामदगी
1- 2 तमंचा 2 जिन्दा व 2 खोखा कारतूस 315 बोर
2- 25000 रुपये (सम्बन्धित मुअसं- 496/17 धारा 392 भादवि थाना जलेसर)
3- एक मो0सा0 पल्सर बिना नम्बर की रंग काला
4- एक मो0सा0 स्पलेण्डर बिना नम्बर की रंग काला

गिरफ्तार अभियुक्तों के विरुद्ध थाना जलेसर पर अभियोग पंजीकृत कर वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा द्वारा घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 3000 रुपये का नकद पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा की।

0 Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

CONTACT US

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Sending

Designed by Krypton Technology

Log in with your credentials

Forgot your details?