1 घंटे की बारिश में दिल्ली पानी पानी, एक हफ्ते में दूसरी बार जरा सी बारिश में दिल्ली का यह हाल

नई दिल्ली, N.I.T. :   हर बार की तरह शनिवार की बारिश भी दिल्ली वालों के लिए जाम और आफत लेकर आई। भले ही बारिश अप्रत्याशित नहीं थी लेकिन दिल्ली का हाल वैसा ही रहा जैसा हर बार होता है। कहीं पर लंबे जाम नजर आए तो कहीं पर लोग सड़क किनारे खड़े होकर बसों का इंतजार करते नजर आए। 28 अगस्त को भी दिल्ली में बारिश से ऐसे हालात बन गए थे।

जलभराव की वजह से वैसे तो कई जगहों पर बसें खड़ी नजर आईं लेकिन एक क्लस्टर से 30 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सबसे बुरे हालात रिंग रोड स्थित यमुनाबाजार के हनुमान मंदिर के पास हुए। यहां भारी जलभराव में क्लस्टर बस फंस गई। बारिश का पानी बस में घुस गया। आनन फानन में लोगों ने फायर ब्रिगेड को फोन किया, जिसके बाद बस में फंसे 30 यात्रियों को बचाया गया। पूरी दिल्ली में बसों के ब्रेक डाउन होने की कई शिकायतें पूरे दिन आती रहीं।

1 घंटे की बारिश में दिल्ली पानी पानी

 सितंबर का पहले दिन बादलों ने दिल्ली पर जमकर सितम ढाया। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली एक घंटे की तेज बारिश भी नहीं झेल सकी और जलमग्न हो गई। 50 से ज्यादा जगहों पर जलभराव के चलते भारी ट्रैफिक जाम हो गया। लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। दफ्तर जाने वाले लोग 2-3 घंटे देर से पहुंचे। गनीमत यह रही कि शनिवार को ज्यादातर सरकारी और कुछ प्राइवेट दफ्तरों के बंद थे। इस कारण सड़कों पर वाहन कम निकले, वर्ना नजारा कुछ और ही होता।

शनिवार सुबह करीब 7 बजे से लेकर 8 बजे तक दिल्ली में तेज बारिश हुई। इसने लोगों को उमस से राहत तो दी, लेकिन मात्र एक घंटे की बरसात से दिल्ली की सड़कें दरिया में बदल गईं। दिल्ली का ऐसा कोई इलाका नहीं था जहां बरसात के कारण जलभराव की स्थिति पैदा नहीं हुई है। बरसात के कारण निचले इलाकों की सड़कों का पानी घरों में घुसने लगा।

ये सड़कें भी पानी में डूबी रहीं लबालब

 विकास मीनार के सामने रामचरण अग्रवाल चौक की तरफ जाने वाली सड़कें पानी में डूब गईं। यहां पर भी क्लस्टर बस सड़क के बीचों बीच खराब हो गई। इसके चलते पीछे से आने वाले वाहनों को परेशानी का सामना करना पड़ा और लंबा ट्रैफिक जाम हो गया। पुलिस मुख्यालय के पीछे की सड़क भी पानी से भर गई। आजाद मार्केट रेलवे अंडर ब्रिज, निर्माणाधीन अंडर ब्रिज, फिल्मिस्तान, कश्मीरी गेट प्रधान डाकघर के पास, यमुना बाजार रोड, रानी झांसी मार्ग, जैन मंदिर चांदनी चौक, तेलीवाड़ा, कुतुब चौक, जाकिर हुसैन  कॉलेज के सामने, बहादुरशाह जफर मार्ग पर जलभराव से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। इतना ही नहीं लुटियंस दिल्ली के रेल भवन के सामने भी सड़कें लबालब पानी में डूब गईं। मंडी हाउस के पास भी जलभराव देखने को मिला। पूर्वी दिल्ली के विकास मार्ग, गीता कालोनी एसडीएम दफ्तर के सामने, चाचा नेहरू अस्पताल के पास  काफी जलभराव हो गया। साउथ दिल्ली के भी कई पानी जलमग्न हो गए।

100 नंबर पर 66 कॉल

 दिल्ली में हुई तेज बारिश की वजह से दिल्ली पुलिस का सहायता नंबर 100 लगातार घनघनाता रहा। इस नंबर पर दिनभर 66 लोगों ने जलभराव और ट्रैफिक जाम होने की शिकायत की। लोगों के फोन सुबह 7:45 पर आने शुरू हुए जो कि डेढ़ बजे तक आते रहे। पुलिस ने लोगों की समस्या को संबंधित सिविक एजेंसियों तक फारवर्ड कर दिया और मदद दिलवाई।

उपराष्ट्रपति निवास के बाहर भी जलभराव 

 वीवीआईपी लुटियंस दिल्ली भी जलभराव से अछूती नहीं रही। नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) को जलभराव की 14 शिकायत मिलीं। इसमें उपराष्ट्रपति के निवास के गेट नंबर एक के बाहर जलभराव की शिकायत एनडीएमसी को मिली। इसके अलावा जवाहरलाल नेहरू मार्ग, बापा नगर, भगवान दास रोड, आरएमएल अस्पताल के सामने, तालकटोरा स्टेडियम, कॉलेज लेन बंगाली मार्केट, कौटिल्य मार्ग, सत्या मार्ग, कालीबाड़ी मार्ग पर जलभराव हो गया। वहीं आधा घंटे तक इन इलाकों में बिजली भी गुल रही। भारी बारिश के चलते राष्ट्रपति भवन का ‘चेंज ऑफ गार्ड’ समारोह भी रद्द कर दिया गया।  राष्ट्रपति भवन की ओर से ट्वीट किया गया कि नई दिल्ली में भारी बारिश के चलते राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में होने वाले ‘चेंज ऑफ गार्ड’ समारोह का आयोजन नहीं हो पा रहा है।

0 Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

CONTACT US

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Sending

Designed by Krypton Technology

Log in with your credentials

Forgot your details?