Asian Game 2018: 67 साल के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, 69 पदक जीते, टॉप-5 में जगह बनाने में नाकाम रहा

  • एशियाड 67 साल के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, 69 पदक जीते; टॉप-5 में जगह बनाने में नाकाम रहा
  • भारत ने सबसे ज्यादा 19 पदक एथलेटिक्स में जीते, इनमें 9 स्वर्ण शामिल
  • टॉप-3 में चीन, जापान और दक्षिण कोरिया रहे 
  • चीन ने 132 स्वर्ण, 92 रजत, 65 कांस्य जीते

नई दिल्ली, N.I.T. :  एशियाई खेलों में शनिवार को भारत का अभियान समाप्त हो गया। भारत ने पिछले 14 दिन में इन खेलों में 15 स्वर्ण, 24 रजत और 30 कांस्य समेत कुल 69 पदक जीते। एशियाड के 67 साल के इतिहास में सबसे ज्यादा स्वर्ण और कुल पदक जीतने के लिहाज से इस बार का प्रदर्शन सबसे बेहतरीन रहा। 1951 के एशियाड में भारत ने कुल 51 पदक जीते थे। तब भारत को 15 स्वर्ण, 16 रजत और 20 कांस्य पदक मिले थे। तब पदक तालिका में दूसरा स्थान था।

भारत इस बार पदक तालिका में टॉप-5 में जगह नहीं बना पाया। भारत को 8वां स्थान मिला। भारत 2014 इंचियोन एशियाड में भी 8वें स्थान पर रहा था। 1986 सियोल एशियाड में भारत को पांचवां स्थान मिला था। इस बार के एशियाड में टॉप-3 में चीन, जापान और दक्षिण कोरिया रहे। चीन ने 132 स्वर्ण, 92 रजत, 65 कांस्य जीते। रविवार को एशियाड का आखिरी दिन है, लेकिन भारत की किसी भी स्पर्धा में भागीदारी नहीं है।

18वें एशियाड: भारत ने 7 खेलों में 15 स्वर्ण जीते 
एथलेटिक्स:

नीरज चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो, मनजीत सिंह ने 800 और जिनसन जॉनसन ने 1,500 मीटर रेस, तेजिंदर पाल सिंह तूर ने शॉट पुट, अरपिंदर सिंह ने ट्रिपल जम्प, हिमा दास, पूवम्मा राजू मछेत्रिया, सरिताबेन लक्ष्मणभाई गायकवाड़, विस्मया कोरोत वेल्लुवा ने महिला 4×400 मीटर और स्वप्ना बर्मन ने महिला हेप्टाथलॉन में स्वर्ण पदक जीते।
निशानेबाजी: सौरभ चौधरी ने पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल और राही जीवन सरनोबत ने महिला 25 मीटर पिस्टल में देश को स्वर्ण पदक दिलाया।
कुश्ती: बजरंग पुनिया पुरुष 65 किग्रा और विनेश फोगाट महिला 50 किग्रा वर्ग में सोना जीतने में सफल रहे।
ब्रिज: इस खेल को पहली बार एशियाड में शामिल किया गया। प्रणब बर्धन और शिबनाथ सरकार ने मेन्स पेयर में चैम्पियन बने।
रोइंग: स्वर्ण सिंह, ओम प्रकाश, सुखमीत सिंह और बब्बन दत्तू भोकानल की टीम ने देश को पहली बार क्वाड्रूपुल स्कल्स स्पर्धा में स्वर्ण दिलाया।
टेनिस: रोहना बोपन्ना और दिविज शरण पुरुष युगल का स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहे।
मुक्केबाजी: अमित पंघाल ने 49 किग्रा वर्ग में पहली बार सोना दिलाया।

रेलवे के खिलाड़ियों ने नौ पदक जीते: 

रेलवे के खिलाड़ियों ने दो स्वर्ण, चार रजत और तीन कांस्य पदक जीते। बजरंग पुनिया और विनेश फोगाट ने स्वर्ण, महिला कबड्डी टीम में कप्तान पायल, ऋतु नेगी और सोनाली शिंगते और एथलेटिक्स में सुधा सिंह और नीना पिंटो ने रजत पदक जीते। इसके अलावा रजत पदक जीतने वाली महिला हॉकी टीम में रेलवे की 13 और कांस्य जीतने वाली पुरुष हॉकी टीम में तीन खिलाड़ी शामिल थे। दो कांस्य पदक जीतने वाली ब्रिज टीम में रेलवे से तीन खिलाड़ी थे। इन एशियाई खेलों में रेलवे के 73 खिलाड़ियों ने भाग लिया।

भारत ने 18 खेलों में 69 पदक जीते

खेल स्वर्ण रजत कांस्य कुल
एथलेटिक्टस 7 10 2 19
निशानेबाजी 2 4 3 09
कुश्ती 2 0 1 03
ब्रिज 1 0 2 03
रोइंग 1 0 2 03
टेनिस 1 0 2 03
मुक्केबाजी 1 0 1 02
तीरंदाजी 0 2 0 02
घुड़सवारी 0 2 0 02
स्क्वैश 0 1 4 05
सेलिंग 0 1 2 03
बैडमिंटन 0 1 1 02
हॉकी 0 1 1 02
कबड्डी 0 1 1 02
कुराश 0 1 1 02
वुशु 0 0 4 04
टेबल टेनिस 0 0 2 02
सेपकटकरा 0 0 1 01
कुल 15 24 30 69

पदक तालिका (2-09-2018, सुबह 09:30 बजे तक)

क्रम देश स्वर्ण रजत कांस्य कुल
1 चीन 132 92 65 289
2 जापान 75 56 74 205
3 द.कोरिया 49 58 70 177
4 इंडोनेशिया 31 24 43 98
5 उज्बेकिस्तान 21 24 25 70
8 भारत 15 24 30 69
0 Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

CONTACT US

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Sending

Designed by Krypton Technology

Log in with your credentials

Forgot your details?