रातई के 14 लोगो को नही मिला मनरेगा में काम, मेठ का भी नही हुआ भुकतान

रातई के 14 लोगो को नही मिला मनरेगा में काम
मेठ का भी नही हुआ भुकतान

फिरोज़ खान, बारां, N.I.T.  : शाहाबाद ब्लॉक की ग्राम पंचायत ढिकवानी के गांव रातई कला के दो मेठ का भुकतान अक्टूबर 2018 से बकाया चल रहा है । इनका भुकतान आजतक भी नही हुआ है । मेठ प्रेम सहरिया व रामसिया ने बताया कि 6 मस्टरोल का भुकतान रुका हुआ है । इन्होंने अक्टूबर 2018 में सिंचाई विभाग द्वारा चलाई गयीं नहरी सफाई कार्य मे रातई तालाब में काम किया था । इसी तरह ललता का 2 मस्टरोल का भुकतान भी नही हुआ है । वही रातई कला के 14 श्रमिक ममता बाई, रूपाराम,अनिता,अनिल,निर्मला, बतिया, सोनू, हल्की, इमरत, सरवन, रामदास, जानकी बाई, राजो बाई ने बताया कि हमे मस्टररोल में काम नही मिल रहा है । हमारे पुराने जॉबकार्ड तो ग्राम पंचायत में जमा करवा लिए और नए जॉबकार्ड जारी कर दिए मगर अभी तक इनको ऑनलाइन नही किया गया है । इस कारण चल रही मस्टररोल में हमारे नाम नही आ रहे है । इसी तरह महोदरा में मनरेगा में 15 दिन की मस्टरोल चली थी जिसमें 141 लोगो को ही काम मिला है । जबकि इस गांव में 753 सहरिया परिवार निवास करते है । इन्होने मनरेगा में काम देने की मांग की है । उन्होंने बताया कि महोदरा में 15 दिन मस्टररोल चलकर बन्द हो गयी ।

New india times

इस सम्बंध में मनरेगा सहायक कार्यक्रम अधिकारी महिपाल मीणा ने बताया कि महोदरा में बड़े तालाब की पिचिंग व गहरीकरण कार्य हेतु प्रस्ताव बनाकर भेज रखा है एक दो दिन में स्वीकृत होकर आ जायेगा । वही डिमांड ले रखी है । जल्द ही मनरेगा की मस्टररोल जारी कर दी जावेगी । और जिन लोगो के जॉबकार्ड ऑनलाइन नही हुए है उनको ऑनलाइन करने का कार्य चल रहा है ।

0 Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

CONTACT US

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Sending

Designed by Krypton Technology

Log in with your credentials

Forgot your details?