पिछले पांच वर्षों में देश की जो दुदर्शा हुई है, गांधी जी ने ऐसे भारत का सपना नही देखा था – सोनिया गांधी

Spread the love

सिर्फ कांग्रेस ही गांधी जी के दिखाए रास्ते पर चल रही है। – सोनिया गांधी

गांधी जी का नाम लेना आसान है, परंतु गांधी के दिखाए रास्ते पर चलना बहुत मुश्किल है।-सोनिया गांधी

कुछ लोग भारत को गांधी जी का प्रतीक की जगह आर.एस.एस. का प्रतीक बनाना चाहते है।- सोनिया गांधी

नई दिल्ली, N.I.T. : महात्मा गांधी की 150वीं जन्म जंयती पर आज दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय राजीव भवन से राजघाट तक पूर्व अध्यक्ष श्री राहुल गांधी की अगुवाई में हजारों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गांधी संदेश पदयात्रा निकाली।

श्री राहुल गांधी के साथ पदयात्रा में वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्षों, दिल्ली के वरिष्ठ नेताओं सहित सेवा दल, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस और एनएसयूआई के हजारों कार्यकर्ताओं ने पत्रयात्रा में हिस्सा लिया। श्री राहुल गांधी सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं को महात्मा गांधी के साबरमती आश्रम और चिरपरिचित चरखे की झांकी के साथ चल रहे थे और अनेक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धोती कुर्ता तथा गांधी जी जैसा चश्मा पहनकर गांधी जी रुप धारण किया हुआ था। कांग्रेस कार्यकर्ता हाथों में झंडा लिए महात्मा गांधी अमर रहे के नारे लगा रहे थे। राजघाट पर कांग्रेस महासचिव श्री मुकुल वासनिक ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को शपथ दिलाई और श्री पीसी चाको ने कार्यक्रम का संचालन किया।

पदयात्रा के समापन स्थल राजघाट पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए श्रीमती सोनिया गांधी ने कहा कि देश में कुछ लोग चाहते हैं कि भारत गांधी जी नहीं बल्कि आरएसएस का प्रतीक बन जाए। उन्होंने कहा कि मैं ऐसे लोगों से साफ तौर पर कहना चाहती हूं कि हमारे देश की मिली-जुली संस्कृति, सभ्यता और समाज में गांधी जी की सर्वसमावेशी व्यवस्था के अलावा कभी कोई सोच पनप नही सकती। श्रीमती गांधी ने कहा कि जो लोग असत्य पर आधारित राजनीति कर रहे हैं और सत्ता के लिए कुछ भी कर सकते है, वे लोग कैसे समझेंगे कि गांधी जी अहिंसा के उपासक थे।

श्रीमती सोनिया गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज जब हमारा देश और पूरी दुनिया महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मना रही है, हमें इस बात पर गर्व है कि आज भारत जहां पहुंचा है, वह गांधी जी के रास्ते पर चलकर ही पहुंचा है। श्रीमती सोनिया गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा महात्मा गांधी के आदर्शों का पालन किया है और राष्ट्रपिता के दिखाए मार्ग पर चलकर भारत को इस मुकाम तक पहुचाया है। उन्होंने कहा कि केवल कांग्रेस ने ही गांधी जी के मार्ग का अनुसरण किया है और आगे भी करती रहेगी।

श्रीमती सोनिया गांधी ने कहा कि पिछले कुछ सालों में साम-दाम-दंड भेद का खुला कारोबार करके वे अपने आपको बहुत ताकतवर समझते हैं। इनके बावजूद भी अगर भारत नहीं भटका है, तो वह हमारे देश की बुनियाद में महात्मा गांधी जी के उसूलों की आधारशीला है। भारत और गांधी जी एक दूसरे के पर्याय हैं।

श्रीमती सोनिया गांधी ने कहा कि गांधी जी का नाम लेना आसान है, मगर उनके रास्ते पर चलना आसान नहीं है। श्रीमती गांधी ने कहा कि पिछले पांच साल में जो भी हुआ, उससे गांधी जी के विचारों को हिला दिया है इससे गांधी जी की आत्मा दुखी होगी। देश की हालत बिगड़ी है। देश में न महिलाएं सुरक्षित हैं और न ही अर्थव्यवस्था ठीक है।

पदयात्रा में शामिल कांग्रेस कार्यकर्ताओं में वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ताओं में दिल्ली प्रभारी श्री पी.सी. चाको, श्री अहमद पटेल, श्री गुलाम नबी आजाद, श्री के.सी. वेनूगोपाल, श्री मुकुल वासनिक, श्री मल्लिकार्जुन खड़गे, अखिल भारतीय कांग्रेस सेवादल के मुख्य संगठक श्री लालजी देसाई, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष श्री हारुन यूसूफ, श्री देवेन्द्र यादव और श्री राजेश लिलौठिया, पूर्व सांसद श्री जय प्रकाश अग्रवाल, श्री अजय माकन, श्री रमेश कुमार, श्री महाबल मिश्रा, श्रीमती कृष्णा तीरथ, श्री परवेज हाश्मी, श्री उदित राज, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चौपड़ा और श्री अरविन्दर सिंह लवली, दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री डा0 नरेन्द्र नाथ, डा0 योगानन्द शास्त्री, श्री मंगतराम सिंघल, डा0 किरण वालिया, वरिष्ठ नेता श्री चतर सिंह, प्रदेश प्रवक्ता श्री जितेन्द्र कुमार कोचर, श्री हरनाम सिंह, श्री रोहित मनचंदा, दिल्ली सेवादल के मुख्य संगठक श्री सुनील कुमार, दिल्ली प्रदेश महिला अध्यक्ष शर्मिष्ठा मुखर्जी, उत्तरी दिल्ली निगम में कांग्रेस नेता श्री मुकेश गोयल, दक्षिणी दिल्ली निगम में कांग्रेस नेता श्री अभिषेक दत्त, पूर्वी दिल्ली निगम में कांग्रेस नेता कु0 रिंकू, युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्री विकास चिकारा, एनएसयूआई अध्यक्ष अक्षय लाकड़ा, सभी जिला अध्यक्ष एवं ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षों सहित हजारों कांग्रेस कार्यकर्ता थे।

इसे भी पढिए   तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के मौजूदा और पूर्व मुख्यमंत्रियों की राजनीतिक दशा-दिशा लोकसभा चुनाव के नतीजों के हिसाब से बड़े स्तर पर बदल सकती है

CONTACT US

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Sending

Designed by  New India Times News Network

Nit tv

New India Times न्यूज 24X7 आपको प्रत्येक खबर से 24 घण्टे अपडेट  2014 -15

Log in with your credentials

Forgot your details?